अच्छी खबर- ग्लेनमार्क ने गिराए करोना की दवाई के दाम, कीमत में 28 % की राहत।

दवा कंपनी ग्लेनमार्क फार्मास्युटिकल्स ने कोविड- 19 के इलाज में काम आने वाली अपनी एंटीवायरल दवा फेविपिराविर का दाम 27 प्रतिशत घटाकर 75 रुपये प्रति गोली कर दिया है। कंपनी की यह दवा ‘फेबिफ्लू ब्रांड नाम से बाजार में उतारी गई है। ग्लेनमार्क फार्मास्युटिकल्स ने सोमवार को एक बयान में कहा कि उसने अपनी दवा ‘फेबिफ्लू का दाम 27 प्रतिशत घटा दिया है। अब दवा का नया अधिकतम खुदरा मूल्य (एमआरपी) 75 रुपये प्रति टैबलेट होगा।

 



रूस में फेबिफ्लू की कीमत 600 रुपये प्रति टैबलेट

फेबिफ्लू को पिछले महीने बाजार में उतारा था। तब एक गोली की कीमत 103 रुपये रखी गई थी। बता दें अब इलाज में 14 दिन का खर्च अब 10,200 रुपये पड़ेगा, इससे पहले 14,000 पड़ता था। भारत में FabiFlu 103 रुपये प्रति गोली लॉन्च किया गया था, जबकि इसकी कीमत रूस में 600 रुपये प्रति टैबलेट, जापान में 378 रुपये, बांग्लादेश में 350 रुपये और चीन में यह 215 रुपये प्रति टैबलेट पड़ रहा है।

ग्लेनमार्क फार्मास्युटिकल्स के वरिष्ठ उपाध्यक्ष और प्रमुख (भारत व्यवसाय) आलोक मालिक ने कहा, ”हमारा आंतरिक विश्लेषण बताता है कि हमारी इस दवा को जहां-जहां अनुमति मिली है उन देशों के मुकाबले हमने भारत में इसे कम से कम दाम पर जारी किया है। इसकी एक बड़ी वजह दवा बनाने में इस्तेमाल होने वाले कच्चे माल (एपीआई) और यौगिक दोनों का विनिर्माण कंपनी के भारतीय संयंत्र में होना है। इससे कंपनी को लागत में लाभ हुआ है, जिसे अब देश के लोगों को हस्तांरित करने की योजना है। हमें उम्मीद है कि इसके दाम में और कमी किये जाने से देश में बीमारों तक इसकी पहुंच और बेहतर होगी।

कंपनी ने यह भी घोषणा की कि उसने 1000 रोगियों में दवा का प्रभाव और सुरक्षा की बारीकी से निगरानी करने के लिए फैबीफ्लू पर एक पोस्ट मार्केटिंग सर्विलांस (पीएमएस) अध्ययन शुरू किया है, जो एक खुले लेबल, मल्टीसेंटर, एकल चिकित्सा अध्ययन के हिस्से के रूप में निर्धारित है।


ग्लेमार्क ने 20 जून को उसके दवा फेबिफ्लू के लिए भारत के दवा नियामक से इसके विनिर्माण और विपणन की मंजूरी मिलने की घोषणा की थी। इसके साथ ही यह हल्के और बहुत हल्के कोविड- 19 संक्रमित मरीजों के लिए पहली मंजूरी प्राप्त दवा बन गई जिसे बाजार में बेचने की अनुमति दी गई। कंपनी ने कहा है कि उसने भारत में मामूली और हल्के संक्रमण वाले कोविड-19 मरीजों के लिए तैयार दवा के तीसरे चरण के क्लिनिकल परीक्षण को भी पूरा कर लिया है। परीक्षण के परिणाम जल्द ही उपलब्ध होंगे।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *